अमर्यादित बोल:- कॉंग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने पीएम को कहा मदारी

0
15

राजस्थान में जैसे-जैसे चुनाव पास आते जा रहे हैं,वैसे वैसे राजनीति भी अपने पूरे शबाब पर चल पड़ी है। और आऐ दिन नेताओं की बदजूबानी कम होने के बजाए बढती जा रही है।कांग्रेस सरकार के पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने आज सरदारपुरा जोधपुर में अशोक गहलोत के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए, ना चाहते हुऐ भी वो बोल गए जो पिछले दिनों से लगातार उनकी पार्टी के नेता गलती करते आ रहे हैं।

सुबोध कांत सहाय ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान
” प्रधानमंत्री मोदी को मदारी तक कहा है और तो और उनकी राज्यों की सरकारों को जमुरा कहा है”

लिहाजा इस चुनाव में यह कोई पहला मौका नहीं है, इससे पहले भी कई दफा कांग्रेस के बड़े नेताओं बदजुबानी करते नजर आए हैं। इससे पहले राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज नेता बीडी कल्ला ने भारत माता का नारा रुकवा कर सोनिया गांधी जिंदाबाद का नारा लगावा कर कांग्रेस को गर्त में ले जा चूके है।

तो वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज नेता सीपी जोशी भी कही पीछे नहीं है, एक वीडियो में हिंदू को जातियों में बांटते नजर आए है।

तो वहीं उनके बीकानेर के खाजूवाला से कांग्रेस प्रत्याशी गोविंद राम मेघवाल हिंदू देवी देवताओं को अपमानित करने से नहीं चूके।

सिने स्टार और उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने मोदी की मां को गाली दी और साथ ही पिछले दिनों दो बार नक्सलियों को क्रांतिकारी कहने तक की हिमाकत कर चूके है।

ऐसे में कांग्रेस पूरी तरह बदजूबानी फोबीया से ग्रसित चारों ओर से नजर आ रही हैं। एक के बाद एक उनके नेताओं का इस तरीके से बदजूबानी करना कांग्रेस के लिए घाटे का सौदा हो सकता है। सियासी जानकारों का कहना की इतिहास गवाह है, कि जिस चुनाव में कांग्रेस के नेताओं ने बदजुबानी की हैं, उसका खामियाजा कांग्रेस पार्टी को चुनाव के नतीजों के दौरान भुगतने को मिला है।

साथ ही यह भी कहना है कि पिछले दिनों से सट्टा बाजार में काफी लीड़ से चल रही कांग्रेस अचानक पिछडने के पीछे दो कारण बताए है। पहला कांग्रेस के टिकट बेचने और दलाली का मामला, वही दुसरा कारण कांग्रेसी नेताओं की लगातार बदजूबानी करना।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here