बांरा जिले में कौन रहा जीत कौन हार पढ़ें पूरी पड़ताल

0
5

राजस्थान विधानसभा चुनाव में चंद घण्टों बाद वोटिंग होने वाली है, बांरा जिले की सभी सीटों पर जानते है, कौन सी पार्टी क्यों और कैसे बढ़त बनाती हुईं नजर आ रही है।

छबड़ा सीट पर बीजेपी ने कद्दावर और जमीनी नेता प्रताप सिंह सिघवी को उतारकर मनोवैज्ञानिक रुप से पहले ही बढ़त बना ली है, वही गुटों में बंटे होने के कारण कांग्रेस प्रत्याशी करणसिंह राठौर को कमजोर कर रखा है।

बांरा अंटरु विधानसभा सीट पर बीजेपी ने मंत्री बाबू लाल वर्मा को उतारा है। वर्मा ने मंत्री रहते इस क्षेत्र के विकास के जरिए कायाकल्प करने का काम किया है, जिसके चलते जनमानस में वर्मा की सकारात्मक छवि का फायदा मिलेगा। वही कांग्रेस के पानाचंद मेघवाल बीजेपी के प्रत्याशी वर्मा के आगे खासे कमजोर नज़र आ रहे है।

अंता, यह बांरा की सबसे हाईप्रोफाइल सीटों में से एक है, यहां बीजेपी ने अपने मौजूदा विधायक और मंत्री प्रभु लाल सैनी पर फिर से दावं खेला है। सैनी ने बतौर कृषि मंत्री अपने विकास कार्यों के सहारे मजबूती के साथ ताल ठोकतें नज़र आ रहे है, वही कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रमोद जैन भाया फिर से मैदान में है। लेकिन भाया अपनी दंबग छवि और कांग्रेस पार्टी की आपसी फुट की वजह से यहां पर बैंकफुट पर नज़र आ रहे है।

किशनगंज सीट पर अपने मौजूदा और युवा विधायक ललित मीना पर फिर से दावं खेलकर बीजेपी ने अपनी जमीं जमाई जमीन पर फिर से जीत के लिए कदम आगे बढ़ाने का काम किया है। वही कांग्रेस की प्रत्याशी निर्मला सहरिया ललित मीना के युवा और विकास पुरुष की छवि के आगे खासी कमजोर नज़र आ रही है।

बांरा जिले की सभी सीटों पर बीजेपी अपने बूथ मैनेजमेंट और सोशल मीडिया ,विकास के साहारे कांग्रेस से कई गुना ज्यादा मजबूत नज़र आ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here